इण्टरनेट क्या है? What is Internet in hindi

इण्टरनेट एक अत्याधुनिक संचार प्रौद्योगिकी है। इण्टरनेट प्रक्रिया में एक साथ करोड़ों कम्प्यूटर एक नेटवर्क में जुड़े रहते हैं। साधारणतयाः इण्टरनेट

इण्टरनेट का अर्थ एवं कार्य प्रक्रिया (Meaning and Working process of Internet)

इण्टरनेट एक अत्याधुनिक संचार प्रौद्योगिकी है। इण्टरनेट प्रक्रिया में एक साथ करोड़ों कम्प्यूटर एक नेटवर्क में जुड़े रहते हैं। साधारणतयाः इण्टरनेट कम्प्यूटरों के विश्वव्यापी को नेटवर्क के रूप में में परिभाषित किया जा सकता है। जिसमे आदान-प्रदान नियमों के जरिये कार्य करते हैं।

What is Internet in hindi

इण्टरनेट प्रक्रिया का वर्णन करना बिल्कुल ऐसा ही है, जैसे किसी नगर का वर्णन करना। यह कोई साफ्टवेयर नहीं है, न यह कोई प्रोग्राम है। इण्टरनेट कोई हार्डवेयर भी नहीं है, वास्तव में यह तो एक ऐसा स्थान है जहाँ हमें अनेक प्रकार की शैक्षिक जानकारियाँ तथा सूचनायें प्राप्त होती हैं।

यदि आप किसी अवधारणा के बारे में अपने छात्रों को पढ़ाने के लिए नवीनतम सूचनाएं एकत्र करना चाहते हैं, आप क्या करेंगे? पारंपरिक तरीका पुस्तकालय से किताब देखने का है। लेकिन आज, इन्टरनेट आपको वांछित सूचनाएं उपलब्ध कराता है। उसी प्रकार से, यदि आप चाहते हैं कि आपके बच्चे कोई ऑनलाइन लेक्चर लें, आपको इसके लिए इन्टरनेट की आवश्यकता होगी। इसलिए, इन्टरनेट पर शैक्षिक क्षेत्र के लिए कई विकल्प हैं। "इन्टरनेट किसी कम्प्यूटर को दुनिया के किसी भी दूसरे कम्प्यूटर से समर्पित राऊटर तथा सर्वर के द्वारा जोडने का माध्यम है। जब दो कम्प्यूटर इन्टरनेट द्वारा जुड़ते हैं तो वे सभी प्रकार की सूचना भेज तथा प्राप्त कर सकते हैं, जैसे कि टेक्सट, ग्राफिक्स, वॉइस, वीडियो तथा कम्प्यूटर कार्यक्रम।"

अतः इन्टरनेट कम्प्यूटरों का एक विकेन्द्रीकृत वैश्विक नेटवर्क है। दूसरे शब्दों में, इन्टरनेट आपस में जुड़े कम्प्यूटर के नेटवर्किंग विश्वव्यापी का एक ऐसा संजाल है जो आम लोगो के लिए पहुंच में है। आपस में जुड़े हुए कम्प्यूटर, एक विशेष प्रकार के पैकेट स्विचिंग के द्वारा प्रसारित करते हैं जिसे इन्टरनेट प्रोटोकॉल अथवा आईपी कहा जाता है। जबकि वल्ड वाइड वेब दस्तावेजो का एक संग्रह है जिस तक आप इन्टरनेट तथा वेब सचिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग कर पहुँच सकते हैं।

इन्टरनेट पर वेब में गहन विषय-वस्तु उपलब्ध होती है। इसलिए, www बड़ी संख्या में दस्तावेजी का एक संग्रह है तथा ये दस्तावेज वेब पेज कहलाते हैं। इसलिए, हम कह सकते हैं कि 'वर्ल्ड वाइब वेब' www इन्टरनेट द्वारा दी जा रही एक सेवा है। इन्टरनेट सर्वर एक विशेष रूप से निर्मित कम्प्यूटर है जिसे चयनित उत्च गुणवत्ता वाले हिस्सों से तैयार किया गया है और जिसमें अत्याधिक सहनशक्ति हो तथा निरन्तर उच्चकार्य भार सह सके तथा इन्टरनेट से जुड़ा हुआ है (http.www.iitk.ac.in)। कम्प्यूटर पर अवस्थित वेबसाइट इन्टरनेट सर्वर कहलाते हैं।

जब आप इन्टरनेट से जुड़े हो, आपका वेब ब्राऊजर सॉफ्टवेयर, इन्टरनेट के साथ संवाद डिजिटल स्थापित कर सकता है, उनसे कह सकता है कि आपके कम्प्यूटर को उस वेब पेज की एक प्रति भेजे, जिसे आप ढूंढ रहे हैं। द यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर (यूआरएल) जिसे आप टाइप करते हैं अथवा जो हाइपरलिंक आप क्लिक करते हैं, वह आपके कम्प्यूटर को उस सर्वर के बारे में सूचित करता है जिससे आप संपर्क करना चाहते हैं तथा उस पृष्ठ के बारे में जिसे आप ढूंढ रहे हैं।

इन्टरनेट के शिक्षा में उपयोग (Use of Internet in Education)

इन्टरनेट के शिक्षा में निम्नलिखित उपयोग हैं-

  1. इन्टरनेट विभिन्न प्रसंगों तथा समसामयिक घटनाओं के विषय में अद्यतन सूचनाओं को प्राप्त करने में सहायता करता है।
  2. यह छात्रों, शिक्षकों तथा मित्र समूह में संवाद को तेज तथा सरल करने में सहायता करता है।
  3. इन्टरनेट विभिन्न अधिगम सामग्रियों तथा विषयवस्तुओं को साझा करने तथा उन तक पहुँच में सहायता करता है।
  4. इन्टरनेट ऑनलाइन शिक्षण तथा आंकलन में सहायता करता है।
  5. इन्टरनेट शिक्षकों को अपने पाठ के अभिपूरित करने में सहायता करता है।
  6. इन्टरनेट संवादमूलक तथा सहयोगपूर्ण शिक्षण सत्र आयोजित करने में सहायता करता है।
  7. इन्टरनेट विभिन्न प्रारूपों में असीमित मात्रा में सूचना उपलब्ध कराता है, जैसे कि टेक्सट, ऑडियो, वीडियो, आदि।
  8. इन्टरनेट शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया की लागत को कम करने में सहायता करता है।
  9. इन्टरनेट छात्रों के कौशल को बढ़ाने में सहायता करता है।

इण्टरनेट का शैक्षिक महत्व (Educational Importance of Internet)

इण्टरनेट अत्याधुनिक संचार तकनीकी है, जो सूचना और संचार के क्षेत्र में श्रेष्ठतम उपलब्धियों में एक है। इसके शैक्षिक महत्त्व को निम्न प्रकार स्पष्ट किया गया है-

  1. यह महत्त्वपूर्ण एवं उपयोगी तथ्यों एवं सूचनाओं की खोज करके उपयोगकर्ता को उपलब्ध कराता है।
  2. इसके माध्यम से बीडियो कन्फ्रेसिंग टाकूमेन्ट रिट्रीवल जैसी मल्टीमीडिया से सम्बन्धित कार्यक्रम सम्पादित किये जा सकते हैं।
  3. इससे विश्व में किसी भी देश में घर बैठे शैक्षिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
  4. इसके द्वारा विश्व में किसी भी देश में उपलब्ध नवीन शैक्षिक जानकारियों को घर बैठे प्राप्त किया जा सकता है।
  5. इसके माध्यम से विश्व के किसी भी देश में रहने वाले श्रेष्ठ शिक्षक से सम्पर्क कर जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
  6. विश्व के विभिन्न देशों से वैज्ञानिक शोधों पर सहयोग लिया या दिया जा सकता है।
  7. किसी भी देश में घर बैठे या किसी भी देश में बैठे किसी व्यक्ति से इण्टरनेट के माध्यम शिक्षा सम्बन्धी तर्क-वितर्क किया जा सकता है।
  8. इण्टरनेट कम समय, कम शक्ति और कम व्यय में सूचनाएँ उपलब्ध कराता है।

इण्टरनेट द्वारा प्रदत्त विभिन्न प्रकार की सेवाएं (Various types of Services Provided by the Internet)

इण्टरनेट पर ऐसी सुविधा उपलब्ध होती है, जिससे यूजर अपनी आवश्यकताओं पर आधारित कार्यों को सम्पन्न करा सके। ऐसी सुविधाओं को ऑनलाइन सर्विसेज कहते हैं। जैसे-रेलवे और हवाई जहाज के टिकट बुक करना, शेयरों की खरीद-फरोख्त इत्यादि। इण्टरनेट द्वारा प्रदत्त विभिन्न सेवाएं निम्न हैं-

1. ई-मेल (सूचना आदान-प्रदान के लिए ):– ई-मेल इण्टरनेट द्वारा प्रदत्त सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण सुविधा है। इसके माध्यम से सूचनाओं का आदान-प्रदान घर बैठे विश्व के किसी कोने में बिद्युत गति से किया जाना सम्भव है।

2. न्यूज बुलेटिन:– इसके माध्यम से विश्वभर में घट रही घटनाओं की जानकारी शीघ्रता से प्राप्त की जा सकती है।

3. टेलनेट:- यह एक स्थान पर बैठे हुए दूसरे कम्प्यूटर की सूचनाओं को एक्सेस करने का माध्यम है। अर्थात् इसके माध्यम से हम दूसरे कम्प्यूटर पर नियन्त्रण कर सकते हैं।

4. चेट:- इसके माध्यम से किसी भी व्यक्ति से लिखित रूप में अथवा ऑडियो एवं वीडियो के माध्यम से बातचीत करना सम्भव है।

5. सॉफ्टवेयर तथा प्रोग्राम:- हमारे द्वारा विभिन्न कार्यों हेतु प्रयोग में लाये जाने वाले सॉफ्टवेयर्स को साधारणतया बाजार से खरीदना होता है। किन्तु इण्टरनेट के माध्यम से सम्बन्धित कम्पनी को बेवसाइट पर जाकर भी हम सॉफ्टवेयर्स को ऑन-लाइन खरीद सकते है।

6. फ्री सॉफ्टवेयर:- इण्टरनेट पर हजारों की संख्या में सॉफ्टवेयर्स उपलब्ध होते हैं। कई कम्पनियाँ अपने उत्पाद को प्रमोट करने हेतु फ्री में इण्टरनेट पर उपलब्ध कराती हैं। उन्हें हम इण्टरनेट से बगैर कोई शुल्क चुकाये प्राप्त कर सकते हैं।

7. ई-कॉमर्स:– ई-कॉमर्स के अन्तर्गत इण्टरनेट पर किया जाने वाला व्यापार सम्मिलित है।

8. ई-बैकिंग (बैंक से नेट द्वारा लेन-देन के काम में आने वाली सेवा):– इसके अन्तर्गत हम अपने बैंक अकाउण्ट को इण्टरनेट द्वारा नियन्त्रित कर सकते हैं। बैंक खातों में लेन-देन करना, बैंक स्टेटमेंट प्राप्त करना आदि सभी कार्य घर बैठे इण्टरनेट पर सम्पन्न किए जा सकते हैं।

9. ई-शॉपिंग (खरीद-फरोख्त के लिए):- वर्तमान बड़े-बड़े व्यापारिक संस्थानों ने अपने उत्पादों की खरीद की सुविधा इण्टरनेट पर उपलब्ध करा रखी है। इसके अन्तर्गत सम्बन्धित संस्थान की वेबसाइट पर पहुँचकर हम सभी उत्पादों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तथा खरीदने हेतु चुनाव कर राशि का भुगतान भी ऑन-लाइन ही कर सकते हैं।

इण्टरनेट की आवश्यकता (Need of Internet)

इण्टरनेट की आवश्यकता निम्न कारणों से होती है-

  1. महत्त्वपूर्ण तथ्यों एवं उपयोगी सूचनाओं को एकत्र करने के लिए।
  2. वीडियो कान्फ्रेन्सिंग, डाक्यूमेंट रिट्रीवल जैसी मल्टीमीडिया से सम्बन्धित कार्यक्रम सम्पादित करने के लिए।
  3. विश्व में घटित सूचनाएँ अतिशीघ्र प्राप्त करने के लिए।
  4. विश्व में किसी भी देश या व्यक्ति के साथ घर बैठे व्यापारिक समझौते करने के लिए।
  5. विश्व के विभिन्न देशों से वैज्ञानिक शोधों पर सहयोग लेने या देने के लिए।

इण्टरनेट के लाभ (Advantages of Internet)

इण्टरनेट के माध्यम से सूचनायें बढ़ी सरलता से और त्वरित गति से प्राप्त हो जाने के कारण विश्व के किसी भी कोने से सूचनायें प्राप्त की जा सकती हैं। इन सूचनाओं के अन्तर्गत वैज्ञानिक आंकड़े, विभिन्न प्रकार के दस्तावेज, रुचि, सूची तथा विभिन्न प्रकार के विज्ञापन एवं संस्थानों के विषय में सूचनाएं उपलब्ध होती है। इण्टरनेट से शीघ्र सूचनाये प्राप्त हो जाने के गुण के कारण हमारे सामाजिक, आर्थिक तथा राजनैतिक जीवन में गुणात्मक परिवर्तन हो रहे हैं। इण्टरनेट पर कोई भी वार्ता की जा सकती है यदि उसके पास पर्सनल कम्प्यूटर तथा एक मोडम टेलीफोन हो तथा सम्बन्धित हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर इत्यादि हो।

इण्टरनेट की विशेषताएँ (Features of Internet)

इण्टरनेट की विशेषताएं निम्नलिखित है-

  1. इण्टरनेट महत्त्वपूर्ण सामाजिक नोट्स के आदान-प्रदान में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  2. इण्टरनेट के द्वारा अनेक मल्टीमीडिया सम्बन्धी कार्यक्रम प्रस्तुत किये जा सकते हैं।
  3. इण्टरनेट के द्वारा बड़ी मात्रा में आंकड़ों की खोज करने में सहायता प्राप्त होती है।
  4. इण्टरनेट के एक स्थान से अनेक स्थानों में बिन्दु से विन्दु तक संचरण होता है।
  5. इण्टरनेट से विश्व की नवीनतम सूचनायें प्राप्त की जा सकती है।
  6. इण्टरनेट व्यापारिक समझौते करने में सहायक होता है।
  7. इण्टरनेट में आवश्यकतानुसार कम्प्यूटर फाइल्स का स्थानान्तरण भी किया जा सकता है।
  8. इण्टरनेट के द्वारा समान रुचि वाले लोगों के साथ सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जाता है।
  9. इण्टरनेट वैज्ञानिक शोध पर कोलैबोरेशन करने का माध्यम है।
  10. एक सर्वर से अन्य के बीच हाइपर लिंकिंग सुविधा जिसमें एक शब्द क्लिक करके उपयोगकर्त्ता विश्व के किसी भी स्थान तक सीधे आंकड़ों के स्रोत तक पहुँच सकते हैं।

इण्टरनेट शब्दावली (Internet Terminology)

  1. चैट रूम:- यह इण्टरनेट की भाषा में एक-दूसरे को आन लाइन बात करने का स्थान होता है।
  2. एक्टिव एक्स:- यह इण्टर एक्टिव वेब पेजों के अवलोकनार्थ प्रोग्राम बनाने में सहायता करता है। इसके माध्यम से ही उपयोग कर्त्ता प्रश्न-उत्तर पूछ सकता है।
  3. काउण्टर:- सामान्यतः यह किसी वेबसाइट या वेब पेज पर आने वाले लोगों की संख्या को प्रदर्शित करता है।
  4. कूकी:- यह एक छोटा प्रोग्राम होता है, जो हमारे किसी वेबसाइट के जुड़ने के समय बनाया जाता है।
  5. क्रेकर:- क्रेकर अथवा हैकर उस व्यक्ति को कहा जाता है, जो किसी साइट को तोड़ देता है। यह उसको लाक या बन्द कर देता है, जिससे कोई अन्य व्यक्ति उसे न देख सके।
  6. लोकेशन:- किसी वेबसाइट का वेस पेज का पता लोकेशन कहलाता है। (vii) लिंक लिंक के द्वारा हम एक साइट से दूसरी साइट या एक वेब पेज से दूसरे वेब पेज तक पहुंचते हैं।
  7. लोड:- यह 'डाउन लोड' या 'अपलोड' शब्द का सूक्ष्म रूप है। इण्टरनेट से अपने कम्प्यूटर द्वारा प्राप्त की जाने वाली जानकारी डाउन लोड कहलाती है। वह प्रक्रिया जिसमें इण्टरनेट के द्वारा हम किसी एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर की सूचना हस्तान्तरित करते हैं, अप लोड कहलाती है।
  8. मोडेम:- यह मोड्यूलेटर डीमोड्यूलेटर डिवाइस का सूक्ष्म नाम है यह वह उपकरण है, जो एक कम्प्यूटर को अन्य कम्प्यूटर से टेलीफोन के माध्यम से परस्पर जोड़ने का कार्य करता है।
  9. प्रोटोकोल:- प्रोटोकोल नियमों का वह समूह है, जिसके अन्तर्गत कम्प्यूटर अन्य लोगों से किस प्रकार इण्टरनेट पर सूचना आदान-प्रदान करेंगे।
  10. डोमेन नेम:- यह वेबसाइट के सबसे उच्चतम स्तर का नाम है।
  11. साइबर स्पेस:- यह शब्द इण्टरनेट की व्याख्या करता है।
  12. वेब पेज:– मॉनीटर पर हमें किसी प्रकार की सूचना देने वाला दृश्य वेब पेज कहलाता है।
  13. सर्फिंग:- वह प्रक्रिया जिससे हम इण्टरनेट पर कार्य करते हैं या इण्टरनेट को कार्य में लेते है, मर्फिंग कहलाती है।
  14. ऑन लाइन:- इण्टरनेट से जुड़े रहने को ऑन लाइन कहते है।
  15. नेट:- यह इण्टरनेट का सूक्ष्म रूप है।

इण्टरनेट के कार्य (Functions of Internet)

इण्टरनेट के निम्नलिखित कार्य होते हैं—

  1. इण्टरनेट के द्वारा शिक्षण प्रक्रिया सम्भव होती है।
  2. वैज्ञानिक क्षेत्र के शोध कार्यों में सहयोग करना।
  3. अपने समूह के एक कम्प्यूटर के दूसरे कम्प्यूटर को प्रदत्त (data) उपलब्ध कराना।
  4. व्यापरिक समझौते करना, विभिन्न उत्पादों का प्रचार करना।
  5. नौकरियों एवं व्यवसायों के सम्बन्ध में जानकारी देना।
  6. अनुसन्धान की उपलब्धियों को प्रकाशित करना।
  7. समाज के किसी भी क्षेत्र में सूचनाएँ उपलब्ध कराना, जैसे-शिक्षा, खेल, राजनीतिक घटनायें, चित्र आदि।
  8. इण्टरनेट को BBS (Bullet on Board Service) सेवा के द्वारा खबरे एवं विचार शीघ्रता से संचारित किये जा सकते हैं।
  9. कुछ ही मिनटों में विश्व के किसी भी कोने से सूचनाये भेजना और प्राप्त करना ।
  10. विभिन्न क्षेत्रों के लोगों को इण्टरनेट के प्रयोग एवं उपयोग के सम्बन्ध में शिक्षित करना।
  11. विश्व के किसी भी देश में रहने वाले व्यक्ति से इण्टरनेट पर बात की जा सकती है।
  12. इण्टरनेट का प्रयोगकर्त्ता किसी एक फाइल का स्थानान्तरण एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर को कर सकता है। फाइल का स्वरूप, डेटा, रेखाचित्र या लिखित कैसा भी हो सकता है।
  13. वैज्ञानिक अनुसन्धान पर अन्य विद्वानों के साथ (collaboration) करना।
  14. संक्षिप्त एवं महत्त्वपूर्ण सामाजिक नोट्स (notes) का आदान-प्रदान करना।

इण्टरनेट कॉलिंग (Internet Calling)

अधिकतर मोबाइल फोन एवं लैण्डलाइन फोनों से बातचीत देखी जाती है। वर्तमान समय मे इण्टरनेट की व्यवस्था से जहाँ एक ओर अनेक कार्य सम्पन्न होते हैं वहीं दूसरी ओर बिना किसी के शुल्क बातचीत भी की जा सकती है। इण्टरनेट एवं कम्प्यूटर की सहायता से जो देश-विदेशों में वार्तालाप होता है, इस वार्तालाप को जो इण्टरनेट के माध्यम से ऑडियो और वीडियो कॉल करने की सुविधा होती है, उसे इण्टरनेट कॉलिंग कहा जाता है। आजकल इण्टरनेट कॉलिंग का प्रयोग व्यापक रूप से किया जा रहा है।

इण्टरनेट दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क है जिसके माध्यम से आप कम समय और देश विदेश में बैठे लोगों से बातचीत कर सकते हैं।

Read also

Post a Comment

Oops!
It seems there is something wrong with your internet connection. Please connect to the internet and start browsing again.
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.