समावेशी शिक्षा के 185 अति महत्वपूर्ण वस्तुनिष्ठ प्रश्न | Important Objective Questions of Inclusive Education in hindi

यहां आपके लिए समावेशी शिक्षा से संबंधित 185 वस्तुनिष्ठ प्रश्न दिए गए हैं जो आगामी टीचर के एग्जाम के लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे। शिक्षक पात्रता परीक्ष

यहां आपके लिए समावेशी शिक्षा से संबंधित 185 वस्तुनिष्ठ प्रश्न दिए गए हैं जो आगामी टीचर के एग्जाम के लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे। शिक्षक पात्रता परीक्षा, TET, CTET, SLET, UGC NET, SET, PRT, PGT, TGT, B.Ed., M.Ed., REET, में आवश्यक रूप से पूछे जाने वाले प्रश्न यहां समावेशित किए गए हैं। सभी प्रकार के टीचर एग्जाम में ये प्रश्न पूछे जाते हैं।

1. शिक्षा का अर्थ होता है-

(a) विकास की प्रक्रिया
(b) अध्यापक प्रशिक्षण
(c) अध्ययन विषय
(d) ये सभी

Ans: (d)

2. शिक्षा की विषयवस्तु से बोध होता है-

(a) शिक्षण का
(b) प्रशिक्षण का
(c) अनुदेशन का
(d) इन सभी का

Ans: (d)

3. समावेशी शिक्षा की व्यवस्था की जाती है-

(a) सामान्य बालकों हेतु
(b) विशिष्ट बालकों हेतु
(c) दोनों प्रकार के लिए
(d) किसी के लिये नहीं

Ans: (c)

4. विशिष्ट शिक्षा की व्यवस्था की जाती है-

(a) प्रतिभाशाली बालकों हेतु
(b) बाधितों के लिए
(c) असमर्थी बालकों हेतु
(d) इन सभी के लिए

Ans: (d)

5. विशिष्ट शिक्षा के लिए आवश्यकता होती है-

(a) डॉक्टरों की
(b) मनोवैज्ञानिकों की
(c) विशिष्ट शिक्षकों की
(d) इन सभी की

Ans: (d)

6. स्वामित्व अधिगम का प्रत्यय दिया—

(a) हर्बर्ट ने
(b) बी०एम० ब्लूम ने
(c) इटाई ने
(d) इनमें से किसी ने नहीं

Ans: (d)

7. शिक्षा के मुख्य आधार होते हैं-

(a) दार्शनिक आधार
(b) सामाजिक आधार
(c) मनोवैज्ञानिक आधार
(d) ये सभी

Ans: (d)

8. समावेशी शिक्षा का सर्वप्रथम विकास हुआ—

(a) अमेरिका में
(b) यूरोप में
(c) भारत में
(d) चीन में

Ans: (b)

9. ब्रेल लिपि का विकास किया-

(a) क्रिक ने
(b) लुइस ने
(c) इटाई ने
(d) वर्ट ने

Ans: (b)

10. समावेशी शिक्षा के प्रवर्तक थे-

(a) लुइस
(b) थाम्सन
(d) इटाई
(c) क्रिक

Ans: (d)

11. दृष्टिबाधितों का राष्ट्रीय संस्थान स्थित है—

(a) नागपुर में
(b) देहरादून में
(c) कानपुर में
(d) चण्डीगढ़ में

Ans: (b)

12. बाधितों हेतु सहायक उपकरणों का निर्माण होता है-

(a) नई दिल्ली में
(c) पटना में
(b) कानपुर में
(d) भोपाल में

Ans: (b)

13. बुद्धि-लब्धि का प्रत्यय दिया-

(a) लुइस ने
(b) इटाई ने
(c) बिने ने
(d) स्टर्न ने

Ans: (d)

14. राष्ट्रीय पुनर्वास परिषद् का मुख्यालय स्थित है—

(a) देहरादून में
(b) कोलकाता में
(c) भोपाल में
(d) नई दिल्ली में

Ans: (d)

15. मानसिक मन्दित बालकों की पहिचान का आधार होता है-

(a) बुद्धि-लब्धि
(b) शैक्षिक उपलब्धियाँ
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (b)

16. प्रतिभाशाली बालकों की पहचान का मानदण्ड होता है-

(a) शैक्षिक उपलब्धि
(b) बुद्धि-लब्धि
(c) समायोजन
(d) ये सभी

Ans: (b)

17. मानसिक मन्दिता का मुख्य कारण होता है—

(a) वंशानुक्रम
(b) वातावरण
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

18. अपंग बालक की पहचान का आधार होता है-

(a) बुद्धि-लब्धि
(b) शारीरिक बाधित
(c) अधिगम असमर्थी
(d) समायोजन

Ans: (b)

19. मानसिक मन्दित बालकों की श्रेणी होती है-

(a) शारीरिक बाधित
(b) अधिगम असमर्थी
(c) मानसिक बाधित
(d) संवेगात्मक विक्षिप्त

Ans: (c)

20. विशिष्ट बालक होते हैं-

(a) प्रतिभाशाली बालक
(b) मन्दबुद्धि बालक
(c) बाधित बालक
(d) ये सभी

Ans: (d)

21. विशिष्ट बालक का सम्बन्ध है-

(a) बुद्धि स्तर
(b) निष्पत्ति स्तर
(c) आर्थिक स्तर
(d) सामाजिक स्तर

Ans: (a)

22. सर्वप्रथम बुद्धि-लब्धि (1.Q.) का प्रत्यय दिया-

(a) टरमन ने
(b) बिने ने
(c) बर्ट ने
(d) स्पीयरमैन ने

Ans: (b)

23. विशिष्ट बालकों से तात्पर्य है

(a) प्रतिभाशाली बालक
(b) सृजनात्मक बालक
(c) उच्च बुद्धि-लब्धि
(d) ये सभी

Ans: (d)

24. टरमन के अनुसार विशिष्ट बालक की विशेषता है—

(a) उत्तम शारीरिक विकास
(b) शैक्षिक विकास
(c) बौद्धिक विकास
(d) ये सभी

Ans: (d)

25. प्रतिभाशाली बालक की समस्या होती है-

(a) परिवार में समायोजन
(b) विद्यालय में समायोजन
(c) समाज में समायोजन
(d) ये सभी

Ans: (d)

26. प्रतिभाशाली बालक की विशेषता होती है-

(a) मौलिक चिन्तन
(b) अधिक बोधगम्यता की शक्ति
(c) शब्दभण्डार अधिक
(d) ये सभी

Ans: (d)

27. प्रतिभाशाली बालकों को शिक्षा व्यवस्था का स्वरूप-

(a) विशिष्ट विद्यालय
(b) विशिष्ट पाठ्यक्रम
(c) योग्य अध्यापक
(d) ये सभी

Ans: (d)

28. अधिगम असमर्थी बालकों की विशेषता होती है-

(a) चेतना की कमी
(b) स्मृति की कमी
(c) संवेगात्मक प्रतिरोध
(d) ये सभी

Ans: (d)

29. अधिगम असमर्थी बालकों की वर्गीकरण का आधार होता है-

(a) स्मृति स्तर
(b) आकृति का ज्ञान
(c) श्रवण ज्ञान
(d) ये सभी

Ans: (d)

30. अधिगम असमर्थी बालकों को शिक्षा दी जाती है—

(a) सामान्य विद्यालय में
(b) विशिष्ट विद्यालय में
(c) समावेशी शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (d)

31. अधिगम असमर्थी बालकों को शिक्षण की प्रविधि है-

(a) पाठ्यवस्तु को छोटे-छोटे खण्डों में प्रस्तुत किया जाये
(b) सतत् पुनर्बलन दिया जाये
(c) सतत् अयास कराया जाये
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

32. अधिगम असमर्थी बालकों हेतु सुधारात्मक प्रविधि है-

(a) अभिक्रमित अनुदेशन
(b) अनुवर्ग शिक्षण
(c) अपनी गति से सीखने का अवसर देना
(d) ये सभी

Ans: (d)

33. अधिगम असमर्थी बालकों के परीक्षण की विशेषता होनी चाहिए-

(a) उपादेयता
(b) विश्वसनीयता
(c) वैधता
(d) ये सभी

Ans: (d)

34. मन्द अधिगामी बालकों की पहिचान का मानदण्ड है-

(a) शैक्षिक उपलब्धि
(b) मानसिक स्तर
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

35. मन्द अधिगामी बालकों की विशेषता होती है-

(a) शैक्षिक मन्दिता
(b) भाषा दोष
(c) वाणी बाधित
(d) ये सभी

Ans: (d)

36. मन्द अधिगामी बालकों की बुद्धि-लब्धि होती है—

(a) 90 से कम
(b) 90 और 90 से अधिक
(c) 90
(d) ये सभी

Ans: (b)

37. मन्द अधिगामी बालकों की मुख्य समस्या होती है—

(a) मन्द गति से सीखना
(b) स्मरण नहीं रख पाना
(c) सामाजिक असुविधात्मक
(d) ये सभी

Ans: (d)

38. मन्द अधिगामी बालकों हेतु शिक्षण प्रविधियों हैं-

(a) मूर्त सहायक सामग्री
(b) प्रस्तुतीकरण में छोटे-छोटे वाक्यों में
(c) पाठ्यवस्तु को खण्डों में प्रस्तुत करना
(d) ये सभी

Ans: (c)

39. स्वास्थ्य बाधित बालकों का अर्थ होता है-

(a) शारीरिक रूप से बाधित
(b) अपंग बालक
(c) दृष्टिबाधित
(d) अजीर्ण रोग से ग्रस्त

Ans: (d)

40. स्वास्थ्य बाधित बालकों का बुद्धि-स्तर होता है-

(a) सामान्य से कम
(b) सामान्य से अधिक
(c) मानसिक मन्दित
(d) ये सभी

Ans: (b)

41. राष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्यबाधित बालकों की व्यवस्था की जाती है—

(a) राज्य सरकार द्वारा
(b) केन्द्र सरकार द्वारा
(c) स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

42. भारत सरकार स्वयंसेवी संस्थाओं को अनुदान देती है-

(a) 50 प्रतिशत
(b) 90 प्रतिशत
(c) शत-प्रतिशत
(d) ये सभी

Ans: (b)

43. राष्ट्रीय ट्रस्ट समाज कल्याण प्रतिवर्ष व्यय कराता है-

(a) ₹ 10.40 करोड़
(b) ₹1.25 करोड़
(d) ₹12.50 करोड़
(c) ₹8.50 करोड़

Ans: (b)

44. शारीरिक रूप से बाधितों की प्रकार है-

(a) स्वास्थ्य बाधित
(b) अस्थि बाधित
(c) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (b)

45. स्वास्थ्य बाधित बालक अक्सर होते हैं-

(a) मानसिक मन्दित
(b) संवेगात्मक विक्षिप्त
(d) इनमें से कोई नहीं
(c) बहुबाधित

Ans: (c)

46. अस्थि बाधितों को कहते हैं-

(a) शारीरिक रूप से बाधित
(b) अपंग बालक
(c) दोनों ही
(d) कोई नहीं

Ans: (d)

47. अस्थि बाधित बालकों को शिक्षा दी जाती है—

(a) सामान्य विद्यालयों में
(b) मुख्यधारा में
(c) समन्वित शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (b)

48. भारतीय पुनर्वास परिषद् की स्थापना हुई थी—

(a) 1995 में
(b) 1993 में
(c) 1994 में
(d) 1992 में

Ans: (b)

49. अस्थि बाधितों हेतु संस्थान स्थित है—

(a) कानपुर में
(b) नागपुर में
(c) देहरादून में
(d) दिल्ली में

Ans: (d)

50. अस्थि बाघितों हेतु आरक्षण का प्राविधान है-

(a) 2 प्रतिशत का
(b) 4 प्रतिशत का
(c) 3 प्रतिशत का
(d) कोई नहीं

Ans: (d)

51. अपराधी बालकों का मुख्य लक्षण होता है-

(a) मानसिक मन्दित
(b) संवेगात्मक विक्षिप्ता
(c) समाज-विरोधी व्यवहार
(d) शारीरिक बाधिता

Ans: (c)

52. अपराधी बालकों का मानसिक स्तर होता है-

(a) सामान्य से कम
(b) प्रतिभाशाली
(d) मानसिक मन्दिता
(c) सामान्य और अधिक

Ans: (c)

53. अपराधी प्रवृत्ति का कारण होता है-

(a) वंशानुक्रम
(b) वातावरण
(c) मानसिक रोग
(d) ये सभी

Ans: (c)

54. अपराधी बालकों की शिक्षा हेतु प्रावधान किया जाये-

(a) पर्याप्त शिक्षा
(b) मनोरंजन की क्रियाएँ
(c) खेल-कूद व्यवस्था
(d) ये सभी

Ans: (d)

55. संवेगात्मक विक्षिप्ति बालक सम्बन्धित होते हैं-

(a) शारीरिक बाधित
(b) मन्द अधिगामी
(c) अपराधी
(d) कोई नहीं

Ans: (d)

56. संवेगात्मक विक्षिप्त बालकों का मुख्य कारण होता है-

(a) वंशानुक्रम
(b) वातावरण
(c) दोनों
(d) कोई नहीं

Ans: (b)

57. संवेगात्मक विक्षिप्त बालकों की पहिचान की जाती है-

(a) शैक्षिक परीक्षण
(b) मानसिक परीक्षण
(c) प्रक्षेपित परीक्षण
(d) ये सभी

Ans: (c)

58. संवेगात्मक विक्षिप्त बालकों की शिक्षा दी जाती है-

(a) सामान्य विद्यालयों में
(b) विशिष्ट विद्यालयों में
(c) समन्वित शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (a)

59. संवेगात्मक विक्षिप्त बालकों की व्यावहारिक लक्षण होता है—

(a) अप्रसन्न रहना
(b) प्रसन्न रहना
(c) तनाव में रहना
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (a)

60. बहुबाधित बालकों का अर्थ होता है-

(a) श्रवण तथा वाणी बाधित
(b) मानसिक मन्दिता तथा अधिगम असमर्थता
(c) दृष्टि एवं अस्थि बाधित
(d) ये सभी

Ans: (d)

61. बहुबाधित का कारण होता है-

(a) वंशानुक्रम
(b) वातावरण
(c) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

62. बहुबाधिता का मुख्य रूप होता है-

(a) अस्थायी बाधिता
(b) आंशिक बाधिता
(c) स्थायी बाधिता
(d) ये सभी

Ans: (d)

63. बहुबाधिता का वर्गीकरण किया जाता है—

(a) शारीरिक बाधिता
(b) मानसिक मन्दित
(c) अधिगम असमर्थी
(d) ये सभी

Ans: (d)

64. बहुबाधित बालकों को शिक्षा दी जा सकती है-

(a) मुख्य धारा
(b) समन्वित शिक्षा
(c) विशिष्ट शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (b)

65. सामाजिक असुविधात्मक बालक होते हैं-

(a) अधिगम असमर्थी
(b) शारीरिक रूप से बाधित
(c) मानसिक मन्दित
(d) सांस्कृतिक असुविधात्मक

Ans: (d)

66. सामाजिक असुविधात्मक बालकों को कहते हैं-

(a) असमायोजित बालक
(b) समस्यात्मक बालक
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

67. सामाजिक असुविधात्मक बालकों की शिक्षा का प्रावधान है—

(a) विशिष्ट विद्यालय
(b) समन्वित शिक्षा
(c) मुख्य धारा
(d) ये सभी

Ans: (c)

68. सामाजिक असुविधात्मक बालकों की मुख्य आवश्यकता है—

(a) सुधारात्मक शिक्षण
(b) अनुवर्ग शिक्षण
(c) परामर्श तथा निर्देशन
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

69. समस्यात्मक बालकों के कारणों को ज्ञात किया जाता है--

(a) शैक्षिक परीक्षण
(b) मानसिक परीक्षण
(c) प्रक्षेपित परीक्षण
(d) ये सभी

Ans: (c)

70. समस्यात्मक बालकों की उपचार विधि/ विधियाँ हैं—

(a) परिवार में उपचार
(b) विद्यालय में उपचार
(c) मनोवैज्ञानिक परीक्षण
(d) ये सभी

Ans: (d)

71. वाणी बाधित बालकों का सम्बन्ध होता है-

(a) भाषा बाधित
(b) अधिगम असमर्थी
(c) श्रवण बाधित
(d) ये सभी

Ans: (d)

72. वाणी बाधित का मुख्य कारण होता है-

(a) मनोवैज्ञानिक
(b) जैविक
(c) श्रवण हास
(d) ये सभी

Ans: (d)

73. वाणी बाधित बालकों को शिक्षा दी जाती है-

(a) विशिष्ट विद्यालय द्वारा
(b) शिक्षा की मुख्य धारा द्वारा
(c) समन्वित शिक्षा द्वारा
(d) ये सभी

Ans: (d)

74. भाषा बाधित में अहम् भूमिका होती है—

(a) शिक्षक की
(b) माता-पिता की
(c) थेरेपी विशेषज्ञ की
(d) इन सभी की

Ans: (d)

75. भाषा में सम्प्रेषण में दोष का रूप होता है-

(a) पाठ्यवस्तु
(b) स्वरूप
(c) निरन्तरता
(d) ये सभी

Ans: (d)

76. भाषा के कौशलों के विकास हेतु उपकरण है-

(a) कम्प्यूटर
(b) दृश्य श्रवण सामग्री
(c) भाषा प्रयोगशाला
(d) ये सभी

Ans: (c)

77. भाषा का कौशल होता है-

(a) पढ़ना
(b) लिखना
(c) बोलना
(d) ये सभी

Ans: (d)

78. दृष्टि बाधित बालक ज्ञान अर्जित करते हैं-

(a) श्रवण इन्द्रिय से
(b) स्पर्श इन्द्रिय से
(c) दोनों से
(d) किसी से नहीं

Ans: (c)

79. ब्रेल लिपि का विकास किया-

(a) किर्क ने
(b) इटाई ने
(c) लुइस ने
(d) ऐलिस ने

Ans: (c)

80. दृष्टि बाधिता का मुख्य कारण है-

(a) वातावरण घटक
(b) वंशानुक्रम घटक
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) कोई नहीं

Ans: (c)

81. दृष्टि बाधितों के लिए राष्ट्रीय शिक्षा संस्थान स्थित है—

(a) हरिद्वार में
(b) कानपुर में
(c) आगरा में
(d) देहरादून में

Ans: (d)

82. दृष्टि बाधितों की शिक्षा का प्राविधान है—

(a) मुख्यधारा
(b) विशिष्ट शिक्षा
(c) समन्वित शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (d)

82. श्रवण बाधितों के शिक्षण व प्रशिक्षण में प्रयुक्त करते हैं-

(a) होंठों का प्रशिक्षण
(b) सांकेतिक भाषा
(c) वाणी का प्रशिक्षण
(d) ये सभी

Ans: (d)

84. श्रवण बाधितों का स्थानापन्न किया जाता है-

(a) सामान्य विद्यालय
(b) विशिष्ट विद्यालय
(c) (a) व (b) दोनों में
(d) किसी में नहीं

Ans: (c)

85. श्रवण बाधितों की आरम्भिक अवस्था में अहम् भूमिका होती है-

(a) सांकेतिक भाषा
(b) श्रवण उपकरणों के उपयोग
(c) सम्पूर्ण सम्प्रेषण
(d) इन सभी की

Ans: (b)

86. श्रवण बाधितों को शिक्षा की मुख्य धारा में लाने के लिये आवश्यक है—-

(a) विशिष्ट शिक्षण का उपयोग
(b) माता-पिता की सहायता
(c) डॉक्टर का परीक्षण
(d) ये सभी

Ans: (b)

87. श्रवण बाधितों को शिक्षा की मुख्य धारा में लाने के लिये आवश्यक है—

(a) श्रवण उपकरणों का उपयोग
(b) वाणी का प्रशिक्षण
(c) भाषा का प्रत्यक्षीकरण
(d) ये सभी

Ans: (d)

88. श्रवण बाधित के वर्ग होते हैं—

(a) गम्भीर रूप से बाधित
(b) कम बाधित
(c) मन्द बाधित
(d) ये सभी

Ans: (d)

89. श्रवण बाधितों के वर्गीकरण का आधार होता है-

(a) बुद्धि-लब्धि
(b) शैक्षिक उपलब्धि
(c) डेसीबल अंक
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

90. मानसिक मन्दित बालकों की पहिचान का आधार होता है-

(a) शैक्षिक उपलब्धि
(b) बुद्धि-लब्धि
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) कोई नहीं

Ans: (b)

91. मानसिक मन्दिता की परिभाषा सर्वप्रथम दी थी-

(a) गिलफोर्ड ने
(b) स्पीयरमैन ने
(c) डूल ने
(d) पोलक ने

Ans: (c)

92. मानसिक मन्दिता का मुख्य कारण होता है-

(a) वातावरण
(b) वंशानुक्रम
(c) (a) व (b) दोनों ही
(d) कोई नहीं

Ans: (c)

93. मानसिक मन्दित बालकों को शिक्षा दी जाती है-

(a) समन्वित शिक्षा
(b) मुख्य धारा की शिक्षा
(c) विशिष्ट शिक्षा
(d) ये सभी

Ans: (d)

94. मानसिक मन्दित बालकों की श्रेणी है-

(a) शारीरिक रूप से बाधित
(b) मानसिक रूप से वाधित
(c) अधिगम असमर्थी
(d) ये सभी

Ans: (b)

95. विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों को कहा जा सकता है-

(a) सामान्य बच्चे
(b) अपवादी बच्चे
(c) समस्यात्मक बच्चे
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (b)

96. प्रतिभाशाली बच्चों की पहचान की जा सकती है-

(a) बुद्धि परीक्षण के द्वारा
(b) विस्तृत शब्द ज्ञान के द्वारा
(c) उपलब्धि परीक्षण के द्वारा
(d) ये सभी

Ans: (d)

97. "पिछड़ा बच्चा वह है जो अपनी आयु-स्तर की कक्षा से निचली कक्षा का कार्य करने में असमर्थ है।" यह कथन है—

(a) बाकर
(b) क्रिक
(c) बर्ट
(d) मेनन

Ans: (c)

98. पिछड़ेपन का कारण हो सकता है

(a) शारीरिक
(b) मानसिक
(c) वातावरण
(d) वे सभी

Ans: (d)

99. मन्दबुद्धि बच्चा यह होता है जिसकी बुद्धिलब्धि-

(a) 200 से कम होती है
(b) शून्य होती है
(c) 70 से कम होती है।
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (d)

100. समस्यात्मक बच्चों के गुण तथा लक्षण हैं-

(a) चोरी
(b) शारीरिक विकार
(c) कार्य न करना
(d) ये सभी

Ans: (d)

101. ई-अधिगम का उपयोग किया जाता है-

(a) ऑनलाइन शिक्षा
(b) दूरवर्ती शिक्षा तथा मुक्त शिक्षा
(c) दूरवर्ती अधिगम व शिक्षण
(d) ये सभी

Ans: (d)

102. ई-अधिगम का साधन है-

(a) नेटवर्क
(b) इण्टरनेट प्रणाली व मोबाइल
(c) संचार माध्यम
(d) ये सभी

Ans: (d)

103. ई-अधिगम की प्रक्रिया में प्रयुक्त करते हैं-

(a) शिक्षा तकनीकी
(b) शिक्षण-शास्त्र
(c) (a) व (b) दोनों को
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

104. ई-अधिगम के मूल्यांकन में महत्त्व दिया जाता है-

(a) अध्ययन कौशल को
(b) लिखने के कौशल को
(c) बोलने के कौशल को
(d) ये सभी

Ans: (d)

105. ई-अधिगम की विशेषता है-

(a) लचीलापन
(b) मितव्ययी
(c) मुक्त परिस्थिति
(d) ये सभी

Ans: (d)

106. ई-अधिगम के माध्यम है-

(a) टंकन माध्यम
(b) संचार माध्यम
(d) ये सभी
(c) दृश्य-श्रव्य माध्यम

Ans: (d)

107. ई-अधिगम में शिक्षण-शास्त्र का उपयोग करते हैं-

(a) पाठ्य-वस्तु के स्वरूप
(b) पाठ्य-वस्तु की गहनता
(c) शिक्षण आयाम
(d) ये सभी

Ans: (d)

108. ई-अधिगम का उपयोग किया जाता है

(a) स्थानीय समुदाय द्वारा
(b) भूमण्डलीय समुदाय द्वारा
(c) जीवन पर्यन्त अधिगम में
(d) ये सभी

Ans: (d)

109. ई-अधिगम में सीमा होती है-

(a) समयबद्ध कार्यक्रम की
(b) स्थानबद्ध कार्यक्रम की
(c) पाठ्य-वस्तु की गहनता की
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (d)

110. ई-अधिगम का उपयोग किया जाता है-

(a) ज्ञानात्मक विकास
(b) भावात्मक विकास
(c) क्रियात्मक विकास
(d) ये सभी

Ans: (d)

111. परामर्श प्रक्रिया का उद्देश्य होता है—

(a) आत्म-ज्ञान
(b) आत्म-स्वीकृति
(c) सामाजिक सामंजस्य
(d) ये सभी

Ans: (d)

112. परामर्श प्रक्रिया का मुख्य घटक होता है-

(a) परामर्शदाता
(b) परामर्शप्रार्थी
(c) उद्देश्य समस्या
(d) ये सभी

Ans: (d)

113. परामर्श प्रक्रिया का मुख्य आयाम

(a) निदेशात्मक
(b) अनिदेशात्मक
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों ही
(d) ये कोई नहीं

Ans: (c)

114. परामर्श की प्रभावशाली प्रक्रिया मानी जाती हैं-

(a) अनिदेशात्मक
(b) निदेशात्मक
(c) समाहारक आयाम
(d) ये सभी

Ans: (c)

115. परामर्श प्रक्रिया का उपयोग किया जाता है-

(a) शैक्षिक समस्या में
(b) व्यावसायिक समस्या में
(c) व्यक्तिगत समस्या में
(d) ये सभी में

Ans: (d)

116. परामर्श प्रक्रिया में आवश्यकता होती है—

(a) प्रक्रिया के घटकों में सम्बन्ध
(b) सघन विचार-विमर्श
(c) परामर्शदाता की दक्षता कुशलता
(d) ये सभी

Ans: (d)

117. परामर्श प्रक्रिया की महत्त्वपूर्ण प्रविधि है—

(a) शैक्षिक परीक्षण
(b) बुद्धि परीक्षण
(c) साक्षात्कार प्रविधि
(d) इन कोई नहीं

Ans: (c)

118. परामर्श प्रक्रिया का मुख्य प्रकार है-

(a) निदेशात्मक
(b) अनिदेशात्मक
(c) समाहारक
(d) ये सभी

Ans: (d)

119. व्यावसायिक निर्देशन का मुख्य उद्देश्य होता है-

(a) व्यवसाय का चयन
(b) व्यवसाय में निरन्तर प्रगति
(c) विषयों का चयन
(d) ये सभी

Ans: (b)

120. व्यावसायिक निर्देशन का विशेष सम्बन्ध किससे होता है-

(a) वर्तमान से
(b) भविष्य से
(c) अतीत से
(d) इनमें से किसी से नहीं

Ans: (d)

121. व्यावसायिक निर्देशन में विशेष महत्त्व क्या होता है-

(a) बुद्धि परीक्षण का
(b) प्रवणता परीक्षण का
(c) शैक्षिक परीक्षण का
(d) व्यक्तित्व परीक्षण का

Ans: (b)

122. व्यावसायिक निर्देशन की मुख्य सेवा होती है—

(a) स्थानापन्न सेवा
(b) अनुगामी सेवा
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों
(d) किसी को नहीं

Ans: (c)

123. निर्देशन का मुख्य प्रकार है-

(a) व्यावसायिक निर्देशन
(b) शैक्षिक निर्देशन
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (c)

124. प्रमापीकृत परीक्षा की विशेषता होती है-

(a) विश्वसनीयता
(b) वैधता
(c) मानक (प्रमापीकृत)
(d) ये सभी

Ans: (d)

125. शैक्षिक निर्देशन की प्रमुख प्रविधियाँ हैं—

(a) शैक्षिक परीक्षण
(b) निदानात्मक परीक्षण
(c) बुद्धि परीक्षण
(d) ये सभी

Ans: (d)

126. शैक्षिक निद्रेशन का आधार होता है-

(a) शैक्षिक समस्या
(b) व्यावसायिक समस्या
(c) व्यक्तिगत समस्या
(d) ये सभी

Ans: (a)

127. शैखिक निर्देशन का उपयोग होता है-

(a) अध्ययन विषयों के चयन में
(b) अधिगम की कठिनाइयों का निदान करने में
(c) उपचारी शिक्षण की व्यवस्था करने में
(d) इन सभी में

Ans: (d)

128. निर्देशन की प्रक्रिया होती है-

(a) बालकेन्द्रित
(b) उददेश्य केन्द्रित
(c) समस्याकेन्दि
(d) ये सभी

Ans: (c)

129. निर्देशन एक सहायक प्रविधि है

(a) शिक्षण की
(b) अनुदेशन की
(c) प्रशिक्षण की
(d) इन सभी की

Ans: (d)

130. निर्देशन की व्यवस्था की जाती है-

(a) समस्या की जानकारी में
(b) सहायता करने में
(c) अनुसरण करने में
(d) इन सभी में

Ans: (d)

131. निर्देशन प्रक्रिया का उद्देश्य होता है-

(a) व्यक्तित्व का विकास
(b) समाजीकरण
(c) नागरिकता का विकास
(d) इन सभी

Ans: (d)

132. निर्देशन की विशेषता है-

(a) जीवन में प्रगति करने में सहायक होती है
(b) अपने निर्णय स्वयं करने में सक्षम बनाती है
(c) बच्चे के भावी जीवन को उज्ज्वल बनाने में सहायक होती है।
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

133. निर्देशन कार्यक्रम का मुख्य तत्त्व है-

(a) उद्देश्यों का निर्धारण
(b) प्रशासनिक गतिविधियों का समन्वय
(c) निर्देशन कर्मचारियों का सरकारी एकमे के रूप कार्य करना
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

134. निर्देशन सेवाओं के रूप हैं-

(a) केन्द्रीय रूप
(b) विकेन्द्रीय रूप
(c) मिश्रित रूप
(d) ये सभी

Ans: (d)

135. निर्देशन सेवा का सामान्य कर्मचारी है—

(a) प्रधानाचार्य
(b) अधीक्षक
(c) सहायक अधीक्षक
(d) ये सभी

Ans: (d)

136. निर्देशन सेवा के विशेषज्ञ कर्मचारी हैं-

(a) प्रधानाचार्य
(b) निर्देशन संचालक
(c) मनोवैज्ञानिक
(d) ये सभी

Ans: (d)

137. निर्देशन संगठन कार्यक्रम होता है-

(a) छात्रकेन्द्रित
(b) अध्यापककेन्द्रित
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (a)

138. "विद्यालय समाज की आवश्यकता को पूरा करने के लिए एक सामाजिक आविष्कार समझा जाना चाहिए, जो बालकों को विशेष प्रकार शिक्षा प्रदान करते हैं।" यह कथन किसका है?

(a) टी०पी० नन
(b) ओटावे
(c) रॉस
(d) जॉन ड्यूवी

Ans: (b)

139. "विद्यालय को समस्त संसार का ही नहीं वरन् समस्त मानव जाति का आदर्श लघु रूप होना चाहिए।" यह किसने कहा है?

(a) पंडित नेहरू
(b) महात्मा गाँधी
(c) टी०पी० नन
(d) रेमाण्ट

Ans: (c)

140. "विद्यालय और महाविद्यालय चरित्र निर्माण के कारखाने हैं। माता-पिता अपने बालकों को इन संस्थाओं में इसलिए भेजते हैं जिससे वे अच्छे स्त्री और पुरुष बन सकें।" यह किसने कहा है?

(a) स्वामी विवेकानन्द
(b) महर्षि अरविन्द
(c) टैगोर
(d) महात्मा गाँधी

Ans: (d)

141. "प्रत्येक नई पीढ़ी को सामाजिक धरोहर का हस्तान्तरण एक ऐसा साधन है जिसके द्वारा व्यक्ति का विकास किया जाता है, इसलिए यह विद्यालय का प्राथमिक कार्य है।" यह किस विद्वान ने कहा

है?

(a) डूबेकर
(b) थॉमसन
(c) कनिंघम
(d) स्मिथ

Ans: (c)

142. विद्यालय शिक्षा का

(a) औपचारिक साधन है
(b) नियमित साधन है
(c) सक्रिय साधन है
(d) सभी कथन सत्य हैं

Ans: (d)

143. शिक्षण में प्रबन्धन को प्रत्यय दिया-

(a) बी० एस० ब्लूम ने
(b) हर्बर्ट ने
(c) आई० के डेवीज ने
(d) ग्लेसर ने

Ans: (c)

144. शिक्षण प्रबन्धन का सोपान है-

(a) नियोजन करना
(b) नियंत्रण करना
(c) व्यवस्था करना
(d) ये सभी

Ans: (d)

145. बी० एस० ब्लूम ने शिक्षण आयाम दिया-

(a) शिक्षण प्रबन्धन
(b) मूल्यांकन आयाम
(c) पंचपदी योजना
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (b)

146. कक्षा प्रबन्धन का मुख्य निर्धारक होता है-

(a) भौतिक
(b) मनोवैज्ञानिक
(c) सामाजिक
(d) ये सभी

Ans: (d)

147. कक्षा का वातावरण होना चाहिए-

(a) मानवीय
(b) प्रजातांत्रिक
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों ही
(d) कोई भी नहीं

Ans: (c)

148. कुण्ठा के प्रमुख कारण हैं-

(a) भौतिक कारण
(b) व्यक्तिगत कारण
(c) सामाजिक कारण
(d) ये सभी

Ans: (d)

149. समायोजन के प्रमुख कारण हैं-

(a) स्व:समायोजन
(b) सामाजिक समायोजन
(c) विकल्प (a) व (b) दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं

Ans: (d)

150. कुसमायोजन के कारण हैं--

(a) प्राकृतिक कारण
(b) भौतिक कारण
(c) सामाजिक कारण
(d) ये सभी

Ans: (d)

151. “ इदम् अहम् और परम् के बीच सामंजस्य का अभाव होने से मानसिक द्वन्द्व होता है।" कथन को

दिया है—

(a) क्रो एवं क्रो ने
(b) फ्रॉयड ने
(c) कैमरन ने
(d) जुंग ने

Ans: (b)

152. मानसिक द्वन्द्व के प्रमुख कारण हैं-

(a) भौतिक व जैविक कारण
(b) संवेगात्मक तथा सामाजिक कारण
(c) आर्थिक कारण
(d) ये सभी

Ans: (d)

153. शिक्षक की भूमिका होती है—

(a) दार्शनिक
(b) मित्र
(c) निर्देशक
(d) वे सभी

Ans: (d)

154. शिक्षक को जानकारी होनी चाहिए-

(a) छात्र की
(b) पाठ्यवस्तु की
(c) शिक्षण प्रक्रिया की
(d) इन सभी की

Ans: (d)

155. सामाजिक अध्ययन शिक्षण में सह-सम्बन्ध की आवश्यकता होती है-

(a) बोधगम्यता
(b) व्यावहारिकता
(c) व्यापकता
(d) ये सभी

Ans: (d)

156. सामाजिक अध्ययन शिक्षक की योग्यता होनी चाहिए-

(a) भाषा शिक्षण
(b) साहित्य-शिक्षण
(c) रचना-शिक्षण
(d) ये सभी

Ans: (d)

157. सामाजिक अध्ययन में शिक्षण का विशेष सह-सम्बन्ध होता है-

(a) विज्ञान विषयों से
(b) हिन्दी शिक्षण विषयों
(c) गणित विषयों से
(d) कृषि विषयों से

Ans: (b)

158. सामाजिक अध्ययन शिक्षक के रूप है-

(a) नागरिकशास्त्र शिक्षक
(b) भूगोल शिक्षक
(c) इतिहास शिक्षक
(d) ये सभी

Ans: (d)

159. सामाजिक अध्ययन शिक्षक का मुख्य कर्त्तव्य है-

(a) मूल्यों का विकास
(b) चरित्र का विकास
(c) सामाजिक का विकास
(d) ये सभी

Ans: (d)

160. सामाजिक अध्ययन शिक्षक का लक्ष्य होता है-

(a) मानवता का विकास
(b) राष्ट्रीय एकता का विकास
(c) अन्तर्राष्ट्रीय सद्भावना का विकास
(d) ये सभी

Ans: (d)

161. क्रियात्मक अनुसंधान से तात्पर्य है-

(a) वैज्ञानिक प्रविधि
(b) सहायक प्रविधि
(c) समस्या समाधान की प्रविधि
(d) ये सभी

Ans: (d)

162. अभिक्रमित अनुदेशन की विशेषता होती है—

(a) पाठ्यवस्तु को छोटे-छोटे पदों में प्रस्तुत करना
(b) सही अनुक्रियाओं को पुनर्बलन देना
(c) छात्रों को अपनी गति से सीखने का अवसर देना
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (c)

163. अभिक्रमित अनुदेशन का विकास किया—

(a) नार्मन ए० क्राउडर ने
(b) बी० एफ० स्किनर ने
(c) (a) व (b) दोनों ने
(d) इन सभी ने

Ans: (c)

164. अभिक्रमित अनुदेशन का उपयोग किया जाता है—

(a) व्यक्तिगत अनुदेशन हेतु
(b) सुधारात्मक शिक्षण
(c) शिक्षण की सहायक प्रविधि
(d) ये सभी

Ans: (d)

165. निर्देशन व परामर्श का उपयोग किया जाता है—

(a) व्यक्तिगत समस्या समाधान हेतु
(b) बालक की समस्याओं तथा कारणों की जानकारी हेतु
(c) शैक्षिक तथा व्यावसायिक हेतु परामर्श देना
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

166. शिक्षा प्रक्रिया में अनुकूलन किया जाता है-

(a) विशिष्ट बालकों आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु
(b) बाधित और असमर्थी बालकों के शिक्षण हेतु
(c) अधिगम असमर्थियों की सुविधा हेतु
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

167. शिक्षा की सामान्य प्रक्रिया में परिवर्तन किया जाता है-

(a) शारीरिक बाधितों के लिए
(b) श्रवण बाधितों के लिए
(c) गम्भीर दृष्टि बाधितों के लिए
(d) इनमें से किसी में नहीं

Ans: (c)

3. शिक्षण प्रक्रिया में परिवर्तन किया जाता है-

(a) अनुदेशन में
(b) शिक्षण विधियों में
(c) शिक्षण प्रविधियों में
(d) इन सभी में

Ans: (d)

168. शिक्षा प्रक्रिया में अनुकूलन की आवश्यकता नहीं होती है—

(a) श्रवण बाधितों के लिए
(b) अस्थि बाधितों के लिए
(c) प्रतिभाशाली बालकों के लिए
(d) दृश्य बाधितों के लिए

Ans: (b)

169. सुधारात्मक शिक्षण प्रविधियों के अनुकूलन की आवश्यकता होती है—

(a) शारीरिक बाधितों हेतु
(b) मन्द अधिगामी बालकों हेतु
(c) श्रवण बाधित बालकों हेतु
(d) संवेगात्मक विक्षिप्त बालकों हेतु

Ans: (b)

170. बहुबाधित बालकों का अर्थ होता है-

(a) श्रवण तथा वाणी बाधित
(b) मानसिक मन्दिता तथा अधिगम असमर्थता
(c) दृष्टि एवं अस्थि बाधित
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

171. बहुबाधित का कारण होता है-

(a) वंशानुक्रम
(b) वातावरण
(c) दोनों ही
(d) उपरोक्त कोई नहीं

Ans: (c)

172. बहुबाधिता का मुख्य रूप होता है-

(a) अस्थायी बाधिता
(b) आंशिक बाधिता
(c) स्थायी बाधिता
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

173. बहुचचिता का वर्गीकरण किया जाता है-

(a) शारीरिक बाधिता
(b) मानसिक मन्दित
(c) अधिगम असमर्थी
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (d)

174. बहुबाचित बालकों को शिक्षा दी जा सकती है-

(a) मुख्यधारा
(b) समन्वित शिक्षा
(c) विशिष्ट शिक्षा
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (b)

175. स्वास्थ्य वाचित बालकों का अर्थ होता है-

(a) शारीरिक रूप से बाधित
(b) अपंग बालक
(c) दृष्टि बाधित
(d) अजीर्ण रोग से ग्रस्त

Ans: (d)

176. स्वास्थ्य बाधित बालकों का बुद्धि स्तर होता है-

(a) सामान्य से कम
(b) सामान्य और अधिक
(c) मानसिक मन्दित
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (b)

177. राष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्य बाधित बालकों की व्यवस्था की जाती है-

(a) राज्य सरकार द्वारा
(b) केन्द्र सरकार द्वारा
(c) स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा
(d) उपरोक्त कोई नहीं

Ans: (c)

178. भारत सरकार स्वयं सेवी संस्थाओं को अनुदान देती है-

(a) 50 प्रतिशत
(b) 90 प्रतिशत
(c) शत-प्रतिशत
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (b)

179. राष्ट्रीय ट्रस्ट समाज कल्याण प्रतिवर्ष व्यय करता है-

(a) 10.40 करोड़
(b) 1.25 करोड़
(c) 8.50 करोड़
(d) 12,50 करोड़

Ans: (b)

180. शारीरिक रूप से बाधितों की प्रकार है-

(a) स्वास्थ्य बाधित
(b) अधि बाधित
(c) दोनों ही
(d) उपरोक्त सभी

Ans: (b)

181. स्वास्थ्य बाधित बालक अक्सर होते हैं-

(a) मानसिक मन्दित
(b) संवेगात्मक विक्षिप्त
(c) बाधित
(d) उपरोक्त कोई नहीं

Ans: (c)

182. विशिष्ट शिक्षा का सर्वप्रथम विकास हुआ—

(a) अमेरिका में
(b) यूरोप में
(c) भारत में
(d) चीन में

Ans: (a)

183. ब्रेल लिपि का विकास किया-

(a) क्रिक ने
(b) लुइस ने
(c) इटाई ने
(d) बर्ट ने

Ans: (b)

184. विशिष्ट शिक्षा के प्रवर्तक थे-

(a) लुइस
(b) थाम्सन
(c) क्रिक
(d) इटार्ड

Ans: (d)

185. दृष्टि बाधितों का राष्ट्रीय संस्थान स्थित है—

(a) नागपुर में
(b) देहरादून में
(c) कानपुर
(d) चण्डीगढ़ में

Ans: (b)

186. बाधितों हेतु सहायक उपकरणों का निर्माण होता है—

(a) नई दिल्ली में
(b) कानपुर
(c) पटना में
(d) भोपाल

Ans: (b)

Post a Comment

Oops!
It seems there is something wrong with your internet connection. Please connect to the internet and start browsing again.
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.